ऐतिहासिक गणगौर की शोभायात्रा निकाली

ऐतिहासिक गणगौर की शोभायात्रा निकाली

धौलपुर। जिले के मनियां कस्बे में चल रहे ऐतिहासिक गणगौर मेले में सोमवार शाम को मेला कमेटी की ओर से भव्य शोभायात्रा निकाली गई। शोभा यात्रा को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोगों का हुजूम उमड़ा। शोभा यात्रा थाने के सामने से मुख्य अतिथि धौलपुर पूर्व प्रधान मोनू जादौन, धौलपुर प्रधान प्रतिनिधि नागेश कुशवाह ने गौरा गौरी के डोले की पूजा अर्चना करते हुए हरी झंडी दिखाकर शोभा यात्रा को रवाना किया। इस मौके पर मुख्य अतिथि ने कहा कि मेला संस्कृति की धरोहर है, जिसे सजा कर रखना हम सभी का कर्तव्य है। उन्होंने कहा कि मनियां में लगने वाले गणगौर मेला पुरानी संस्कृति को याद दिलाता है। इस तरह के आयोजन से लोगों में आपसी भाईचारे की भावना को बढ़ावा मिलता है। पारंपरिक तरीके से मनाई जाने वाले गणगौर मेले का सोमवार को लोगों ने उत्साह एवं उमंग के साथ लुफ्त उठाया और देर रात्रि तक सांस्कृतिक कार्यक्रमों की धूम मची रही। मेला हर साल आमजन के सहयोग से निकाला जाता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार इस दिन घरों में महिलाएं गौरा गौरी की पूजा अर्चना कर व्रत रखती हैं। गणगौर मेला कमेटी अध्यक्ष दाऊजी पटसरिया ने बताया कि में 31 झांकी और 15 बैंड बाजों के साथ गणगौर शोभायात्रा निकाली गई है। उसके बाद थाने के पास से शाम 6 बजे झांकियां शुरू हुई जो जीटी रोड, मांगरोल रोड, मेन बाजार, गांधी पार्क, नेहरु मार्ग एवं अंबेडकर पार्क होते हुए थाने के पास पहुंची। जहां शोभायात्रा का समापन किया गया। इस दौरान हाईवे और मेन बाजार में शाम को हजारों की संख्या में दर्शक झांकियां देखने उमड़ पड़े तथा स्थानीय लोगों के साथ साथ उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश राज्यों से भी लोग मेला देखने आए। झांकियों के आगे बैंड बाजे वाले धुन बजाते हुए चल रहे थे, जिन पर लोग नृत्य करते नजर आए।